Trending

Pankaj Udhas Passes Away : पंकज उधास को बंदूक की नोक पर सुनानी पड़ी थी ये गजल, जानिए अधिक 

Pankaj Udhas Career and Facts: सभी के दिलों में राज करने वाले, संगीत की दुनिया के महान कलाकार पंकज उधास हमारे बीच नहीं रहे. पंकज उधास में 72 साल की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली थी. लेकिन उनकी लोगों के दिलो में हमेशा जिन्दा रहेगी. ऐसे ही जिंदा रहेगी उनकी रोचक कहानियां, जो लोगों को हमेशा प्रेरित करती रहेगी.

पंकज उधास ने अपना पहला गाना स्टेज शो दिवंगत सिंगर स्वर कोकिला लता मंगेश्कर का गाना गाकर शरुआत की थी. करियर की शुरुआत का पहला स्टेज शो दिवंगत सिंगर स्वर कोकिला लता मंगेश्कर का गाना गाकर किया था. पंकज लता को अपना गुरु मानते थे. उनके साथ पंकज उधास की कई बेहतरीन यादें रही हैं. जिन्हें सिंगर ने सोशल मिडिया पर बताया था.

पंकज को रहा मलाल

पंकज ने लता मंगेशकर से अपनी पहली मुलाकात, और उनके साथ गाए गानों की यादें और पुराने किस्सों को को बताया था. पंकज का कहना हैं कि लता जी के साथ तीन गाने गाए थे. लेकिन मेरी किस्मत ख़राब थी जिसके कारण मैने तीनों गाने मैंने लता जी के साथ गाए. क्योंकि उन में से मुझे कोई भी लाभ नहीं. जब भी मैं स्टूडियो पहुंचा तो पता चला वो अपना पार्ट डब करके चली गई हैं. पंकज का कहना था कि मुझे जब भी लता से मिलने का मौका मिलाता तो मैं उस मौके को गवाया नहीं. पंकज लता जी से घर गणपति पूजन के लिए जाते थे.

पंकज उधास का कहना हैं कि मैं पहली बार लता जी कॉलेज में मुलाकात की थी. पंकज उधास ने कहा कि मैने कभी भी नहीं सोचा था कि मेरी उनसे मुलाकात होगी. मैंने उनकी लाइव परफॉर्मेंस देखी. वहां से बातचीत शुरू हुई थी . लता जी के घर हर साल गणपति आते थे. हर साल मैं उनके घर गणपति में जाता था. जरूरी नहीं होता था जो उनके घर गणपति पर जाए उनसे मिले. पर मैं कोशिश करता था उनसे मुलाकात हो जाए. ”

सुनानी पड़ी थी गजल!

पकंज उधास की गजल की दुनिया दीवानी है. फिल्मों के गानों में अपनी आवाज देने के साथ- साथ यह स्टेज शो भी किया करते हैं. खबरों की माने तो एक इंटरव्यू के दौरान पंकज इधास ने अपने एक स्टेश शो में जुड़ा हुआ किस्सा शेयर किया था कि किस तरह उन पर बंदूक की नोक रखकर उनसे ग़ज़ल गाने को कहा गया था.

इस बीच पंकज उधास ने बताया कि वह एक महफिल में गजल गा रहे थे. 4 से 5 गजल गाने के बाद उनके पास एक व्यक्ति आया और उनसे गजल गाने की फरमाइश करने लगा. उस व्यक्ति का व्यवहार पंकज उधास को कुछ सही नहीं लगा और उन्होंने गजल गाने से इनकार कर दिया. फिर क्या था थोड़ी ही देर में उस शख्स ने जेब से बंदूक निकाली और उनके सामने तान दी. सामने तनी हुई बंदूक देख पंकज उधास की हालत खराब हो गई और उन्होंने जल्द से जल्द उस शख्स की फरमाइश पूरी की.

पड़ोसन से हुआ प्यार


पंकज उधास के दोनों भाई भी संगीत की दुनिया से काफी रुचि रखते हैं. उनके सबसे बड़े भाई मनहर उधास प्लेबैक सिंगर हैं. वहीं अगर पंकज उदास की प्रेम कहानी (Pankaj Udaas Love Story) की बात करें तो पंज पंकज कॉलेज की पढ़ाई कर रहे थे थो उनकी नजर उनकी पड़ोस की रहने वाली फरीदा पर पड़ी और एक ही नजर में दिल दे बैठे.

पंकज उधास की प्रेमिका


पंकज उधास की प्रेमिका का नाम फरीदा जो कि एक एयर होस्टेस थी और पारसी समुदाय से ताल्लुक रखती थीं. धीरे-धीरे मुलाकातें बढ़ीं तो दोनों बेहद करीब आ गए. पंकज के परिवार को इस रिश्ते से कोई दिक्कत नहीं थी. लेकिन फरीदा के घरवालों ने इस ऱिश्ते ने इनकार कर दिया था. पंकज उधास ने फरीदा के पिता से बात की जो कि एक  रिटायर्ड पुलिस ऑफिसर थे. तो उन्होंने कहा कि अगर तुम्हे लगता है कि दोनों खुश रहोगे तो आगे बढ़ो और शादी कर लो इस तरह से पंकज उधास की प्रेम काहानी थी. उनकी दो बेटिया नायब और रेवा हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button